Jaunpur : पतंग के मंझें में विद्युत धारा हुई प्रवाहित, 15 वर्षीय बच्चा बुरी तरह झुलसा हालत गंभीर।

Jaunpur : पतंग के मंझें में विद्युत धारा हुई प्रवाहित, 15 वर्षीय बच्चा बुरी तरह झुलसा हालत गंभीर।


न्यूज़ अब तक आपके साथ
देश प्रदेश का सबसे बड़ा न्यूज़ नेटवर्क बनाने का सतत प्रयास जारी।

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के मुंगराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के कमालपुर गांव में 15 जनवरी रविवार को पतंग उड़ाते समय पतंग के मंझें में करंट प्रवाहित होने लगा और वह विद्युत संपर्क में आ गया जिससे किशोर गंभीर रूप से झुलस गया। तुरंत ही उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया। हालत गंभीर होने के कारण चिकित्साधिकारी ने प्रयागराज अस्पताल के लिए रेफर कर दिया।
जानकारी के अनुसार नेहाल अहमद (15) पुत्र मुन्ना सुबह मकर संक्रांति पर्व पर अन्य लड़कों के साथ रेलवे ट्रैक के निकट पतंग उड़ा रहा था। पतंग उड़ाने के दौरान उसकी पतंग रेलवे ट्रैक के ऊपर से गुजरे हाईवोल्टेज विद्युत तार में फंस गई। वह उसे छुड़ाने की कोशिश करने लगा। इस दौरान मांझे में करंट उतरने के कारण वह झुलस कर गिर गया। उसके ट्रैक पर गिरने की सूचना मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे और मुंगराबादशाहपुर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ले गए। जहाँ चिकित्सकों ने बताया कि नेहाल करीब 70 प्रतिशत झुलस गया है। हालत गंभीर देखते हुए इलाज के लिए मेडिकल कालेज प्रयागराज रेफर कर दिया।

(पत्रिका) जयपुर में लगे एक खबर के अनुसार जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक नवीन अरोड़ा ने बताया कि मकानों के पास से गुजर रही बिजली की लाईनों के आसपास पतंग उड़ाते समय विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। यदि बिजली के तार या उपकरणों में पतंग व डोर फंस जाए तो उसे नहीं खींचे ना ही धातु की छड़ आदि से छुड़ाने का प्रयास का प्रयास करें। कोई पतंग फंस जाए तो लोहे या एल्मूनियम के पाईप, सरिए व गीली लकड़ी से हटाने का कतई प्रयास नही करें। उन्होंने बताया कि एल्यूमिनियम फॉयल (धातु) से बनी हुई पतंग एवं मेटल पाउडर कोटेड मांझे का उपयोग नहीं करें क्योंकि ये विद्युत चालक का कार्य करते हैैं और विद्युत दुर्घटना की दृष्टि से बहुत खतरनाक हैैं।







-
Previous Post Next Post
ads

 ------- इसे भी पढ़ें-------



       

    نموذج الاتصال