Jaunpur news : सगे भाई ने की भाई की गला रेतकर हत्या, जाने क्या था पूरा मामला, कैसे हुआ खुलासा ?

न्यूज़ अब तक आपके साथ
देश प्रदेश का सबसे बड़ा न्यूज़ नेटवर्क बनाने का सतत प्रयास जारी।
रिपोर्ट-@लक्ष्मण कुमार चौधरी
उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के खुटहन थाना क्षेत्र के उसरौली गांव में सोमवार की सुबह युवक का गला रेतकर नृशंस हत्या का वारदात सामने आया, इस वारदात को अंजाम देने वाला और कोई दूसरा नहीं वल्कि उसका सगा अपना छोटा भाई ही निकला। उसी ने अपने एक दोस्त के साथ मिलकर दूसरे नम्बर वाले भाई का गला रेतकर हत्या कर दिया। घटना का कारण देवर भाभी के बीच नाजायज़ संबंध बताया जा रहा है। घटना के बाद मृतक के पिता द्वारा दी गई नामजद तहरीर के आधार पर पुलिस ने मृतक के सबसे छोटे चौथे नंबर के भाई को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं उसका दोस्त अभी भी फरार बताया जा रहा है। बता दें कि घटनास्थल पर एसपी सिटी शैलेन्द्र कुमार सिंह, सीओ शाहगंज अजीत सिह, कई थाने की पुलिस एवं फोरेंसिक टीम ने पहुंच कर घटना की जानकारी व जाँच पड़ताल की। पुलिस ने आवश्यक कार्रवाई के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। सुबह घंटे भर प्रयास के बाद शव की शिनाख्त शिराज अहमद निवासी गांव कपसिया के रूप में की गई थी।

जानकारी के अनुसार उसरौली गांव के कुछ ग्रामीण भोर में शौच के लिए सेवई नाले की तरफ गये थे। जहां बाग में एक शव पड़ा था,जिसे देख शोर मचाने लगे। मौके पर लोगों की धीरे धीरे वहां भीड़ जमा हो गई। लोगों के द्वारा ग्राम प्रधान को सूचित किया गया उधर घटना की जानकारी होते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गयी। युवक का गला रेतकर कर हत्या की गई थी। घटनास्थल पर खून फैला हुआ था। वहीं बगल म्यान सहित चाकू , नायलान की रस्सी और तंबाकू भरी चुनौटी फेंकी हुई मिली। शव को देखकर अंदाज़ लगाया जा सकता था कि हत्या इसी स्थल पर की गई है। यह घटना जंगल में आग की तरह चारों ओर फैल गई।

बता दें कि पड़ोसी गांव कपसिया के शिराज अहमद अपने छोटे भाई इरफान के साथ बाइक से रविवार की सायं लगभग साढ़े पांच बजे पट्टी नरेंद्रपुर बाजार गये थे। देर रात उनका भाई इरफान वापस घर लौट आया। रात में पिता के वापस न लौटने पर दूसरे दिन उसके 12 वर्षीय पुत्र जिसान और 8 वर्षीय पुत्र अकरम पिता की तलाश कर रहे थे। साथ में इरफान भी खोजबीन कर रहे थे।तभी उन्हें सूचना मिली कि उक्त बाग में एक शव मिला है। मृतक के दोनों बेटे भागते हुए घटनास्थल पर पहुंचे तो शव देखते ही बिलख बिलख कर रोने लगे। शिनाख्त के बाद पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया, उसके बाद घटना की छानबीन शुरू हुई। प्रभारी निरीक्षक दिव्य प्रकाश सिंह ने बताया कि मृतक के पिता ने थाने में तहरीर देकर आरोप लगाया कि उसकी हत्या छोटे पुत्र इरफान ने किया है।
घटना के पीछे भाभी देवर के बीच अंतरंग संबंध बताया। जिसके आधार पर पुलिस ने आरोपित को हिरासत में ले लिया। पुलिस द्वारा सख्ती बरतने पर उसने अपना किया गया जुर्म कबूल लिया, घटना को अंजाम देने में उसने अपने एक दोस्त को भी सामिल करने की बात स्वीकारी है। हालांकि पुलिस उसके नाम का खुलासा नहीं कर रही है। बता दें कि मृतक चार भाई थे, रेयाज, शिराज, इंसार और ईरशाद मृतक दूसरे नम्बर का था,इसके पहले उसकी दो शादी हुई थी ,एक को छोड़ दिया था बाद में इस महिला से जो आज़मगढ़ की रहने वाली है, से शादी किया था।




-
और नया पुराने

Edited by- न्यूज़ अब तक


Youtube Facebook instagram Twitter-x image

Powerd by

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
ads

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

نموذج الاتصال