Jaunpur news : पत्रकार गोली हत्याकांड मामले में हुई बड़ी कार्यवाही, गरजा बाबा का बुल्डोजर, करोड़ों का जुर्माना।

न्यूज़ अब तक आपके साथ
देश प्रदेश का सबसे बड़ा न्यूज़ नेटवर्क बनाने का सतत प्रयास जारी।
रिपोर्ट-@लक्ष्मण कुमार चौधरी
यूपी के जौनपुर जिले के शाहगंज थाना क्षेत्र के रहने वाले पत्रकार आशुतोष श्रीवास्तव गोली हत्याकाण्ड के मामले में आखिरकार बाबा का बुलडोजर चल ही गया, बता दें कि तहसील शाहगंज प्रशासन और भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर गांजे बाजे के साथ बुल्डोजर चलाकर करोड़ों रूपये की सरकारी जमीन और तालाब को भू-माफियाओं से मुक्त कराकर उस पर सरकारी बोर्ड लगा दिया। बुल्डोजर के चलने से इलाके के भू-माफियाओं व दबंगों में दहशत का माहौल है, वहीं कब्जेदारों पर प्रशासन द्वारा 1 करोड़ 5 लाख 30 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया गया है।

ज्ञात हो कि बीते कुछ महीने पूर्व पत्रकार आशुतोष श्रीवास्तव का गोली मारकर हत्या कर दिया गया था, छलनी करने वाले एक शुटर को पुलिस ने बीते 05 जून को एनकाउंटर में मार गिराया था तथा दूसरे को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया था।
उक्त तहसील क्षेत्र के सबरहद बाजार व गांव की सरकारी बेशकीमती जमीनों को दबंग भू-माफियाओं ने राजस्व कर्मियों की मिली भगत से अपने नाम दर्ज कराकर कब्जा कर रखा था। इसी गांव के निवासी व एक निजी चैलन के पत्रकार आशुतोष श्रीवास्तव ने भू-माफियाओं के खिलाफ आवाज बुलंद किया तो बीते 13 मई को दिन दहाड़े अज्ञात बदमाशों ने सबरह बाजार में गोली मारकर हत्या कर दिया गया। हत्या के बाद हरकत में आयी पुलिस ने एक आरोपी भू-माफिया को मुबंई से गिरफ्तार करके जेल भेज दिया, जबकि शुटर प्रिंस सिंह को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया।

अब तहसील प्रशासन ने आशुतोष द्वारा की गयी शिकायत की जांच पड़ताल किया तो वह जमीन और तालाब ग्राम पंचायत की पायी गयी जिस पर एसडीएम शाहगंज के आदेश पर सोमवार को तहसीलदार की मौजूदगी में भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर बाजे गांजे के साथ बुलडोजर के माध्यम से चाहर दिवारी की ध्वस्त कराकर सरकारी बोर्ड लगा दिया गया। 
शाहगंज तहसीलदार आशीष कुमार सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर तहसील के राजस्व कर्मियों व क्षेत्राधिकारी, प्रभारी निरीक्षक थाना शाहगंज व पुलिस बल के साथ ग्राम सबरहद की गाटा संख्या 922/0.081 हेक्टेयर आबादी चूना भट्टी खाते की सुरक्षित भूमि से प्रतिवादी मो० उमैर शेख पुत्र सहाबुद्दीन शेख निवासी ग्राम सबरहद के सम्बन्ध में मुकदमा दर्ज किया गया था जिसमें तहसीलदार आशीष कुमार सिंह द्वारा उपरोक्त के द्वारा अतिक्रमण की गई भूमि के सम्बन्ध में बेदखली आदेश के अनुपालन में अवैध अतिक्रमण को  न्यायालय के आदेश से हटवाया गया , एवं राजस्व विभाग द्वारा भूमि को कब्जा कर बोर्ड लगाया गया ।

इसी क्रम में ग्राम सबरहद के आराजी संख्या 1816/1.1130 हेक्टेयर पर अंकित खातेदार जामिया फारूखिया मैनुद्दीन पुत्र नबीउल्ला निवासी ग्राम सबरहद का नाम निरस्त कर पूर्वत पोखरा/तालाब खाते में दर्ज करने सम्बन्धित आदेश का पालन कराया गया , पोखरा से अवैध अतिक्रमण हटाकर राजस्व विभाग द्वारा अपना बोर्ड स्थापित किया गया।
कार्यवाही में क्षेत्राधिकारी शाहगंज एवं मनोज कुमार ठाकुर प्रभारी निरीक्षक थाना शाहगंज मय पुलिस बल तथा तहसीलदार आशीष सिंह , नायब तहसीलदार शैलेन्द्र कुमार मय राजस्व टीम मौके पर उपस्थित रही, उक्त अवैध अतिक्रमण हटवाने की कार्यवाही के समय मौके पर मुनादी कराकर आम जनमानस को सूचित किया गया ।

क्षेत्रीय लेखपाल विकास सिंह तहसील शाहंगज के लिखित तहरीर पर अवैध अतिक्रमण करने वाले अभियुक्तगण  1. उमैर शेख पुत्र स्व० शहाबुद्दीन शेख निवासी सबरहद थाना शाहगंज जनपद जौनपुर 2- सिकन्दर आलम पुत्र अज्ञात पता अज्ञात 3. अरफी शेख पुत्र अज्ञात के विरूद्ध 01 जुलाई 2024 से प्रभावी नये भारतीय कानून के तहत धारा 329 भारतीय न्याय संहिता 2023 व 3/5 सार्वजनिक सम्पत्ति नुकसान निवारण अधिनियम पंजीकृत किया गया। पुलिस ने बताया कि आगे की और कार्यवाही जारी है। वहीं स्व. आशुतोष श्रीवास्तव के भाई संतोष श्रीवास्तव ने कहा कि अभी कार्यवाही का केवल 10 प्रतिशत काम हुआ है आज मेरे भाई की आत्मा को कुछ शांति मिली होगी, मेरे भाई ने 12 से अधिक मामलों के बारे में जिक्र कर कार्यवाही की मांग की थी,अभी जो कार्यवाही हुई है वह तो शुरुआत है। मामले में दर्ज किए गए लोगों को गिरफ्तार कर नार्को टेस्ट कराया जाय और सीबीआई जांच किया जाय तब मामले में सही कार्यवाही होगी।


-
और नया पुराने

Edited by- न्यूज़ अब तक


Youtube Facebook instagram Twitter-x image

Powerd by

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
ads

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

نموذج الاتصال